ऊपर
भारतीय शेयर बाजार में गिरावट: निफ्टी 23,400 से नीचे खुला, सेंसेक्स 440 अंक गिरा; JSW एनर्जी उच्चतम शिखर पर पहुंचा
जून 24, 2024
के द्वारा प्रकाशित किया गया मधुर गावडे

भारतीय शेयर बाजार में गिरावट: शुरुआती आंकड़ों में गिरावट

आज का दिन भारतीय शेयर बाजार के लिए नकारात्मक संकेतों से भरा हुआ रहा। निफ्टी ने 23,400 के नीचे के स्तर पर शुरुआत की, जो निवेशकों के लिए चिंता का विषय है। सेंसेक्स में भी 440 अंकों की महत्वपूर्ण गिरावट दर्ज की गई, जिससे बाजार में अराजकता की स्थिति उत्पन्न हो गई है। यह गिरावट अमेरिका और एशियाई बाजारों के मिश्रित प्रदर्शन के कारण हुई है, जिसमें कई कारकों का योगदान है।

अमेरिकी बाजारों में कल रात की कमजोरी और एशियाई बाजारों की अलग-अलग स्थितियों ने भारतीय शेयर बाजार पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है। निवेशक अब इस बात की प्रतीक्षा कर रहे हैं कि यह गिरावट कितनी स्थायी है और आगे क्या स्थिति होगी।

JSW एनर्जी ने 52-सप्ताह के उच्चतम शिखर को छूआ

JSW एनर्जी ने 52-सप्ताह के उच्चतम शिखर को छूआ

बाजार की इस नकारात्मकता के बीच, JSW एनर्जी के शेयरों ने अपना 52-सप्ताह का उच्चतम स्तर छू लिया। इस महत्वपूर्ण उपलब्धि के पीछे एक प्रमुख कारण, कंपनी को सोलर एनर्जी कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SECI) से एक टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धी बोली के तहत पवन-सौर संकर (हाइब्रिड) पावर प्रोजेक्ट जीतना है।

JSW एनर्जी की सहायक कंपनी, JSW नियो एनर्जी, को तीन सौ मेगावाट ISTS से जुड़े पवन-सौर संकर पावर प्रोजेक्ट (कुल मिलाकर 1,200 मेगावाट परियोजना का हिस्सा है) स्थापित करने के लिए पुरस्कार पत्र मिला है। यह उपलब्धि कंपनी के लिए महत्वपूर्ण रही है और इसके शेयर की कीमत में वृद्धि का प्रमुख कारण बनी है।

 CarTrade टेक के शेयरों में 3% की गिरावट

CarTrade टेक के शेयरों में 3% की गिरावट

CarTrade टेक के शेयरों में आज बाजार में 3% की गिरावट दर्ज की गई। यह गिरावट एक ब्लॉक डील के बाद आई है, जिसके चलते निवेशकों की चिंता बढ़ गई है। ब्लॉक डील बाजार में अत्यधिक मात्रा में शेयरों के एकसाथ बिकने की स्थिति को दर्शाता है, जिससे शेयर की मूल्य में अचानक गिरावट आती है।

हालांकि, विश्लेषक इस बात पर एकमत नहीं हैं कि यह गिरावट कितनी स्थायी होगी, और आने वाले दिनों में CarTrade टेक का प्रदर्शन कैसा रहेगा। निवेशकों को इस बात की प्रतीक्षा करनी होगी कि कंपनी कैसे अपनी स्थिति को संभालती है और आगे क्या कब्जे उठाएगी।

बाजार में कुल मिलाकर अस्थिरता

बाजार में कुल मिलाकर अस्थिरता

इस पूरी स्थिति को देखते हुए यह स्पष्ट होता है कि भारतीय शेयर बाजार में इस समय भारी अस्थिरता है। विभिन्न कंपनियों के शेयरों में एसजीपी (SGP) और अन्य देशों के बाजारों के प्रभाव को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। निवेशकों के लिए यह समय सतर्कता बरतने का है।

विश्लेषकों का मानना है कि आने वाले दिनों में बाजार की स्थिति में सुधार आ सकता है, लेकिन इसके लिए घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय मोर्चों पर स्थिरता जरूरी होगी। बाजार की मौजूदा स्थिति निवेशकों के लिए अच्छा समय हो सकती है, अगर वे सतर्कता से निवेश करें और बाजार के रुझानों को ध्यान में रखते हुए सही निर्णय लें।

भारत के शेयर बाजार में आगे क्या स्थिति होगी, यह भविष्यवाणी करना कठिन है, लेकिन आज की घटनाओं ने यह साफ कर दिया है कि यह स्थिरता की ओर नहीं बढ़ रहा। इसे देखते हुए, निवेशकों को अपने निवेश निर्णय बहुत ही सोच-समझकर और जरूरत पड़े तो विशेषज्ञों की सलाह के आधार पर ही लेने चाहिए।

मधुर गावडे

लेखक :मधुर गावडे

मैं पत्रकार हूं और मैं मुख्यतः दैनिक समाचारों का लेखन करता हूं। अपने पाठकों के लिए सबसे ताज़ा और प्रासंगिक खबरें प्रदान करना मेरा मुख्य उद्देश्य है। मैं राष्ट्रीय घटनाओं, राजनीतिक विकासों और सामाजिक मुद्दों पर विशेष रूप से ध्यान देता हूं।

एक टिप्पणी लिखें

नवीनतम पोस्ट
11जून

के द्वारा प्रकाशित किया गया मधुर गावडे

12मई

के द्वारा प्रकाशित किया गया मधुर गावडे

30जून

के द्वारा प्रकाशित किया गया मधुर गावडे

8जून

के द्वारा प्रकाशित किया गया मधुर गावडे

3जुल॰

के द्वारा प्रकाशित किया गया मधुर गावडे

हमारे बारे में

समाचार प्रारंभ एक डिजिटल मंच है जो भारतीय समाचारों पर केन्द्रित है। इस प्लेटफॉर्म पर दैनिक आधार पर ताजा खबरें, राष्ट्रीय आयोजन, और विश्लेषणात्मक समीक्षाएँ प्रदान की जाती हैं। हमारे संवाददाता भारत के कोने-कोने से सच्ची और निष्पक्ष खबरें लाते हैं। समाचार प्रारंभ आपको राजनीति, आर्थिक घटनाएँ, खेल और मनोरंजन से जुड़ी हुई नवीनतम जानकारी प्रदान करता है। हम तत्काल और सटीक जानकारी के लिए समर्पित हैं, ताकि आपको हमेशा अपडेट रखा जा सके।